स्वस्थ दांतों के लिए अपनाएं ये 9 आसान टिप्स :

दाँत चेहरे की खूबसूरती में चार चांद लगाते हैं लेकिन दाँतों की ठीक ढंग से देखरेख न होने की वजह से ये सफेद से पीले हो जाते हैं। सही ढंग से सफाई ना होने की वजह से दाँतों के इनेमल पर बहुत असर होता है। इसके लिए दाँतों की नियमित देखभाल जरूरी है। सबसे जरूरी बात है कि खाना खाने के बाद मुँह में एक घूंट पानी भरें व कुल्ला करें। कुल्ला करने के बाद उस पानी को बाहर फेंकने की बजाए, अंदर ही ले जाएं। इससे खाने के जो कण दाँतों में फंसे हैं, वो पानी के साथ ही अंदर चले जाएंगे।

स्वस्थ दांतों के लिए अपनाएं ये 9 आसान टिप्स
सॉफ्ट-ब्रश से दाँतों को साफ करना
नाश्ते के बाद व रात को सोने से पहले, दिन  में कम से कम दो बार ब्रश जरूर करें। ऐसा करने से जो भी आपके दाँतों में फँसा है, वो निकल जाएगा, बैक्टिरिया खत्म हो जाएँगे, दाँत मजबूत रहेंगे, मसूड़ों की बीमारी ठीक होगी और मुँह से बदबू भी नहीं आएगी। पर इसके लिए जरूरी है कि दाँतों को सॉफ्ट-ब्रश से ही साफ किया जाए। अत्याधिक हार्ड ब्रश मसूड़ों के लिए ठीक नहीं होता।

खाने के बाद ब्रश

दाँतों के लिए बेहतर है कि जब भी आप खाना लें, तो उसके बाद सॉफ्ट ब्रश करें। यह जरूरी नहीं कि हर बार पेस्ट का ही इस्तेमाल करें। आप सादे पानी से भी सॉफ्ट ब्रश करें तो भी ठीक है। ऐसा करने से दाँतों में जो भी फंसा है, वो निकल जाएगा।

चॉकलेट खाने के बाद

कुछ मीठा, खासतौर पर चॉकलेट खाने के बाद, पानी से ब्रश जरूर करें, इससे दाँतों में कैविटी की समस्या नहीं रहेगी।

नीम, शीशम की दातुन

नीम, शीशम की दातुन बहुत फायदेमंद है। तेजबंद भी दाँतों के लिए बहुत बढ़िया है। अगर तेजबंद थोड़ा सा भी जीभ पर लगा लिया जाए तो जीभ अपने आप ही बिल्कुल टमाटर की तरह लाल हो जाती है। ये सभी दातुन दांतों को मजबूती प्रदान करती हैं।

नींबू

नींबू के छिलकों को धूप में  सुखाकर पीस लीजिए और इसे मंजन के रूप में प्रयोग करें, इससे दाँतों में चमक आ जाएगी। इसी प्रकार नमक, सरसों का तेल और नींबू का रस मिलाकर प्रतिदिन मंजन करने से भी दाँतों में चमक आ जाती है।

आप खाने में नींबू का रस इस्तेमाल करते हैं व छिलका फेंक देते हैं, इसकी बजाए निचोड़े हुए नींबू के छोटे-छोटे टुकड़े करके दाँत साफ करें। नियमित प्रयोग से आप स्वयं महसूस करेंगे कि आपके दाँत कैसे जगमगा उठे हैं।

दाँतों का व्यायाम

शरीर के दूसरे अंगों क तरह दाँतों का भी व्यायाम करना चाहिए। ब्रश के बाद आप अपने ऊपर वाले दाँतों को निचले दाँतों से दबाएं और फिर ढीला छोड़ दें। ऐसा करने से आपके मसूड़ों में खून का बहाव नियमित हो जाता है। इसके अलावा गन्ना चूसना भी दाँतों का बहुत ही अच्छा व्यायाम है।

स्ट्रॉबेरी

स्ट्रॉबेरी भी दाँतों को सफेद बनाने में असरदार होता है। कुछ स्ट्रॉबेरी लेकर अपने दाँतों पर रगड़िए, इससे आपके दाँत सफेद हो जाएंगे।

नशे से परहेज

आपके दाँत जीवन भर स्वस्थ रहें, इसलिए यह जरूरी है कि आप नशे के सेवन से बिल्कुल दूर रहें। एल्कोहल, तम्बाकू आदि ऐसे नशे हैं जिनसे ना केवल दाँत पीले होते हैं, बल्कि ये कैंसर जैसी बीमारियों का कारण भी बनते हैं।

मसूड़ों की मालिश

मसूड़े एक आधार हैं जिस पर दाँत खड़ें हैं, इनका स्वस्थ होना बहुत जरूरी है। पिपरमेंट के तेल से इनकी मालिश कर आप इन्हें मजबूत बना सकते हैं।